Khel Hindi Shayari

Khel Hindi Shayari
khel shayari in hindi,khel par shayari in hindi,khel hindi shayari,khel ki shayari in hindi,hindi shayari on khel,खेल हिंदी शायरी,kismat ka khel hindi shayari,sports shayari in hindi,khiladi shayari in hindi,shayari on games in hindi,khel kood par shayari,shatranj shayari in hindi,shayari on cricket in hindi,cricket shayari download,volleyball shayari in hindi
Khel Hindi Shayari
खेल खेल में हारना आ जाये, खेल को खेल समजना आ जाये,दिख जाए हंसी तेरे लबों पे ,तो जिंगदी को भी हार जाए.


ना मेरा दिल बुरा था ना उसमे कोई बुराई थी,सब मुक़द्दर का खेल है बस किस्मत में जुदाई थी.




तकदीर के खेल से नाराज नहीं होते, जिंदगी में कभी उदास नहीं होते.


 हाथों किं लक़ीरों पे यक़ीन मत करना, तकदीर तो उनकी भी होती हैं, जिन के हाथ ही नहीं होते.


लगता है माँ बाप ने बचपन में खिलौने नहीं दिए, तभी तो पगली हमारे दिल से खेल गयी.


चलो आज फिर मिटटी से खेलते है दोस्तों,हमारी उम्र ही क्या थी जो दिलो से खेल बैठे.


कैसी कैसी रीत चली और कैसे कैसे मेल,तब खेल खेल में प्यार हुआ अब प्यार हो गया खेल.

www.meridileshayari.in
khel shayari in hindi,khel par shayari in hindi,khel hindi shayari,khel ki shayari in hindi,hindi shayari on khel,खेल हिंदी शायरी,kismat ka khel hindi shayari,sports shayari in hindi,khiladi shayari in hindi,shayari on games in hindi,khel kood par shayari,shatranj shayari in hindi,shayari on cricket in hindi,cricket shayari download,volleyball shayari in hindi, meri dil e shayari,meridileshayari