Tera Ehsaas Shayari

Tera Ehsaas Shayari 
ehsaas shayari

कितना मुश्किल है एहसासों को ज़ुबानी लिखना..
जैसे पानी से...पानी पे....,पानी लिखना

Kitna Mushkil hai Ehsaaso ko Zuwani likhna..
Jaise Pani se...Pani par ...Panni likhna .

एक तेरा एहसास है।
जो हर वक़्त मेरे साथ है
एक तेरी याद है
जो दिन रात मुझे तड़पाती है

Ek Tera Ehsaas Hai….
Jo Har Waqt Mere Sath Hai
Ek Teri Yaad Hai
Jo Din Raat Mujhe Tarpaati Hai

जागना भी कुबूल है
तेरी यादों में रात भर,
तेरे एहसास में जो सुकून है
वो नींद में कहाँ।

Jagna Bhi Qabool Hai
Teri Yaadon Me Raat Bhar,
Tere Ehsaas Me Jo Sukoon Hai
Wo Neend Me Kahan.

उतर के देख मेरी चाहत की गहराई में,
सोचना मेरे बारे में रात की तन्हाई में,
अगर हो जाए मेरी चाहत का एहसास तुम्हें,
मिलेगा मेरा अक्स तुम्हे अपनी ही परछाई में।

Utar Ke Dekh Meri Chahat Ki Gehrai Me,
Sochna Mere Bare Me Raat Ki Tanhai Me,
Agar Ho Jaye Meri Chahat Ka Ehsaas Tumhe,
Milega Mera Aks Tumhe Apni Hi Parchhai Me.

www.meridileshayari.in